अपने लेख, कविता, कहानियां अथवा अन्‍य लिखित सामग्री इस ब्‍लाॅग पर प्रकाशित करवाने बारे में हमें tiwarijai222@gmail.com पर ई-मेंल करें और हिन्‍दी साहित्‍य के उत्‍थान में अपना योगदान दें
नया क्‍या है
जारी हो रहा है

कुछ सत्य उजागर करती हुई पंक्तिया- Indian History Blog

तुम मुसलमान हो
मुझे दिक्कत नही है
तुम ईसाई हो
मुझे दिक्कत नही है

Jay Shri Ram.
मै हिन्दू हूँ तो
तुम्हे दिक्कत है ?

फिर तो तुम
दिक्कत मे रहोगे हमेशा
क्योंकि
मै गर्वित
कट्टर
हिन्दू हूँ ।

पाक से लेकर पेरिस तक
कहीं भी आतकी हमला हो तो

एक ही कौम
एक ही महजब
और
एक ही मानसिकता वाले
लोगो पर शक जाता है
और
वो शक
सच साबित भी होता है

तो कैसे मैं कह दूँ
आतंकवाद का
कोई महजब नही होता ?

1 गांधी मरा,
6000 ब्राहमणों को मारा गया ।

1 इंदिरा गांधी मरी,
4700 सिखों को मारा गया ।

1 दामिनी को
दर्दनाक मौत दी गयी,
1 मोमबत्ती जली ।

मुस्लमान
वन्दे मातरम न बोले
तो ये उन का धार्मिक मामला है ।

नरेन्द्र मोदी टोपी ना पहने
तो ये साला
सांप्रदायिक मामला है ?

डेनमार्क में अगर
कोई फोटो बन गयी
तो उस का सर कलम ।

श्रीराम की जमीन पर
अगर मंदिर बनाने को
बोला जाये तो हिन्दू बेशर्म ?

गोधरा में जो 50-60 हिन्दू
ट्रेन में जले
वो सब भेड़ बकरी थे,

और उसके बाद
जो मुस्लिम मरे
वो देश के सच्चे प्रहरी ?

15 साल पहले ही
कश्मीर हो गयी
हिन्दुओ से खाली,

देश की बढती
मुस्लिम आबादी
हमारी खुशहाली ?

पठानी सूत,
नमाजी टोपी में
वो ख़ूबसूरत,

हम सिर्फ
तिलक लगा लें या
राम कह दे तो
भगवा आतंक की मूरत?

कोई लड़ता है यहाँ
पाकिस्तान के लिए,
कोई लड़ता है
उर्दू जुबान के लिए,

सब चुप हो जाते हैं
श्री राम नाम के लिए,

अब तो गूंजते हैं नारे
तालिबान के लिए,

हिन्दू परेशान है
नौकरी और दुकान के लिए।

मैं पूछता हूँ
इसका
समाधान कहाँ है?

अरे तुम ही बोलो
हिन्दू का हिन्दुस्तान
कहां है ?

जिसकी_तलवार_की_छनक_से अकबर_का_दिल_घबराता_था

वो_अजर_अमर_वो_शूरवीर वो_महाराणा_कहलाता_था

फीका_पड़ता_था_
तेज_सूरज_का,
जब_माथा_ऊंचा_करता_था ,

थी_तुझमे_कोई_बात_राणा,
अकबर_भी_तुझसे_डरता_था

पुत्र मैं भवानी का ...
मुझ पर किसका जोर ...

काट दूंगा हर वो सर ...
जो उठा मेरे धर्म की ओर ...

भुल जाओ अपनी जात ...
करो सिर्फ  धर्म की बात ...

एकबार नही ...
सौ बार सही ...
हर बार यही दोहरायेगे ...

जहाँ जन्म हुआ ...
प्रभु श्री राम जी का ...
मंदिर वहीं बनायेंगे ..

हिन्दुस्तान की सभी हिंदुत्व संगठन एक बनाऐ !!
इंडिया नहीं हमें हिन्दुस्तान चाहिये !!

!!अहींसा परमो धर्मःधर्महिंसा तदैव च:!!